Blog‎ > ‎

Take on Shayari

posted 7 Nov 2012, 20:24 by olnf Admin
Author: Suparas Singhi

Year old and number of new contributors, is a big achievement for olnf which was merely started as a blog to showcase my poetic talent. At present olnf is no more my blog or my website...it belongs to every single individual who has contributed for its successful run.


Now olnf is no more dependent on me which I am proud of. One of my professors during PG taught us that never make system dependent on you, if you wanna move and grow in life make it independent of you.

olnf is now independent of me and I thank all to all of you for your support and motivation.

So after an interval of 5 months, I have come up with few short poem or you call them shayari...I hope you all will love it...


1. When Love strikes:

तेरे हुस्न पे हम ऐसे मर मिटे,

सही गलत का अंतर भी खो बैठे,


उस हंसी के घायल हम यूं हुए,

आखों में सपने, पराये आ बैठे,


जब जब बढे तेरे कदम मेरी ओर,

खुशियों के पंख लगा, दिल खो बैठे,


क्या कहूं उस मधुर आवाज़ को,

जिसे सुन कोयल भी चुप बैठी,


हर तरफ तेरे नैनों का जाल छाया,

आखों में तेरी तस्वीर जो लिए बैठा हूँ,



2. A guy reasoning why he stares every girl that pass by:

आखों में तेरे खोया हूँ,

परछाई तेरी नज़र आई हर तरफ़,

इसीलिए सब को घूरे जा रहा हूँ,



3. Fear of love failure:

भूगोल तेरा भले ही बढ़िया हो,

इतिहास ने परेशान कर रखा है,


तेरे दिल तोड़ने की आदत के कारण,

ग़म की नदियाँ बहीं, सभी टूटे दिल की दरारों से,

फिर भी लोगों ने उसी ग़म को दिल से लगा रखा है,

हो ना जाए मेरी यह हालत,

इसीलिए दिल को फेवीकोल से चिपका रखा है,



4. Poor love:

तेरी हर इच्छा को पूरा कर ना सकूंगा,

पर हर इच्छा को दिल से सुनता रहूँगा,


क्या तोहफ़ा दूं मैं तुझे,

तेरा अमीर होना भी तो एक मुसीबत है,


अपना नौकर बना के रख ले मुझे,

यह तोहफा दे तू मुझे,


दिल से तो अमीर हूँ, जगह तो काफी खाली है,

पर दिल के चार खानों में, सिर्फ रखना है तुझे,


जानना चाहता हूँ तेरा नाम,

इसीलिए तेरे दोस्तों से राखी बंधवाए जा रहा हूँ,


अब आगे क्या कहूं, जब सामने तुम आते हो,

बर्फ़ी सा हो जाता हूँ,

धड़कन तो बहुत चिल्लाती है,

पर पैसों की आवाज़ में,

दिल कहाँ तेरा सुन पता है,

सोने की चमक से,

आखें भी कहाँ तू खोल पाती है।



Thats all for the month, hope to see you soon...bye take care and wish you all a very Happy Diwali.

Till then Let’s write share & experience... On L&F

Comments